CM Photo 08 dt. 15 February, 2016आई एन वी सी न्यूज़
देहरादून,
मुख्यमंत्री हरीश रावत द्वारा अपने विधान सभा क्षेत्र धारचूला के रा0ई0का0 बरम में आयोजित बहुउद्देशीय शिविर में जन संवाद कार्यक्रम में क्षेत्र की जनता की समस्यायें सुनी गई। उन्होंने शिविर के माध्यम से बारी-बारी क्षेत्रीय जनता की समस्यायें सुनी तथा मौके पर ही समस्याओं का समाधान किया, कुछ समस्यायें जो क्षेत्र के विकास हेतु विभिन्न निर्माण कार्यों से संबंधित थी उनके समाधान हेतु संबंधित विभागों को प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिये।
उन्होंने शिविर में क्षेत्र के विकास हेतु अनेक घोषणाऐं भी की उन्होंने शिवर में उपस्थित क्षेत्रीय जनता को संबोधित करते हुए कहा कि विधान सभा धारचूला क्षेत्रान्तर्गत शिक्षा के क्षेत्र में अनेक हाईस्कूल एवं इण्टरमीडिएण्ट काॅलेज खोले गये है, इसके अतिरिक्त यहां उच्चशिक्षा हेतु काॅलेज भी संचालित हैं उन्होंने क्षेत्रीय जनता से अपील की है कि परिवार के जो बच्चे अब भी स्कूल में शिक्षा ग्रहण कर रहे है उनके उन्नत भविष्य एवं आगे बढ़ने हेतु वह घर पर भी व्यक्तिगत रूप से बच्चों की पढ़ाई पर विशेष ध्यान दें। उन्होंने कहा कि क्षेत्र के विद्यालयों मंे अध्यापकों एवं प्रधानाचार्यों की कमी है उन विद्यालायों में इस कमी को दूर करने हेतु प्रधानाचार्यों एवं अध्यापकों की नियुक्ति सरकार द्वारा की जा रही है शीघ्र ही सभी विद्यालयों में तैनाती हो जायेगी। उन्होंने कहा कि इस हेतु प्रदेश 1000 टी0ई0टी0 प्रशिक्षु की भर्ती शीघ्र ही की जा रही है। अपने संबोधन मंे मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में गरीब परिवारों को आर्थिक रूप से मजबूत करने हेतु अन्य प्रदेशों की तुलना में बेहतर कार्य किया गया है। सरकार द्वार गरीब परिवारों को विभिन्न पेंशन सहायता से लाभन्वित किया जा रहा है। उन्होेंने कहा कि वर्तमान में पूरे प्रदेश में लगभग 5 लाख, 76 हजार लोागों को विभिन्न पेंशन योजनाओं से लाभान्वित किया जा रहा है शीघ्र ही यह संख्या 07 लाख तक पहुंच जायेगी इस हेतु विभिन्न पेंशन योजनायें संचालित की गयी है। उन्होंने महिलाओं को ग्रामीण अर्थव्यस्था का एक मजबूत स्तम्भ मानते हुए कहा कि सरकार द्वारा महिलाओं के कल्याणार्थ अनेक योजनायें संचालित की जा रही है जो महिलायें दक्ष है उन्हें बेहतर प्रशिक्षण दिये जाने की व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने वि0स0 क्षेत्र धारचूला में ऐसी महिलाओं का चयन कर उन्हें प्रशिक्षण दिये जाने हेतु जिलाधिकारी को निर्देश दिये।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार द्वारा यहां के उद्यमियों द्वारा तैयार किये गये उत्पादों को देश तथा विदेेशों में बाजार उपलब्ध कराया गया है। उन्होंने सभी से शिक्षा, हस्त शिल्प तथा खेती के क्षेत्र में आगे बढ़ने की अपील की। उन्होंने कहा कि सरकार गरीब एंव जरूवतमंद लोगों को आगे बढ़ने हेतु उनके साथ खड़ी है। अपने संबोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखण्ड राज्य विकासदर में निरन्तर आगे बढ़ रहा है। नीति आयोग भारत सरकार की रिर्पोट के अनुसार  उत्तराखण्ड  ने तेजी से विकास किया है। उन्होंने जनता से अपील करते हुए कहा कि हम सभी को मिलकर विकास को आगे बढ़ाना होगा।
शिविर में प्राप्त आवेदनों की सुूनवाई के दौरान मुख्यमंत्री द्वारा जनता की मांग एंव क्षेत्र के विकास के मद्ेनजर अनेक घोषणायें की जिसमें क्षेत्र की पेयजल समस्यां विभिन्न तोकों में पेयजल की समस्यां समाधान हेतु 02करोड, जी0आई0सी0 पयापौरी इण्टर काॅलेज मे दो अतिरक्त कक्ष निर्माण, प्र0वि0 खुमती की चहरदिवारी निर्माण हेतु 10 लाख, खुमती जी0आई0सी0 कन्या जू0हाई0 की चहरदिवारी हेतु 05 लाख रू0 की घोषणा, जी0आई0सी0बरम में काॅमर्स, गृहविज्ञान एवं समाज शास्त्र विषय खोले जाने की घोषणा, गुइया से थोड़ा तक 05 किलो0 मोटर मार्ग की घोषणा, बलुवाकोट से पोखरी से लैक मोटर मार्ग की घोषणा, पयापौरी से गोठानी तक 03 किलो0 मोटर मार्ग, बलुवाकोट केडा मोटर मार्ग, बलुवाकोट पयापौरी सड़क मार्ग के चैड़ीकरण की घोषणा, ढुंगातोली-चन्द्रागांव-कांडा-लिटिया सड़क की घोषणा, तोली कन्याल लिंक रोड़ की घोषणा, ढुगातोली में अनुसूचित जाति परिवार हेतु पेयजल टैंक निर्माण की घोषणा, बलुवाकोट पशु  चिकित्सालय में पशु चिकित्सक की तैनाती, कौली में पशु सेवा कंेद्र खोले जाने की घोषणा, खुमती में आंगनबाड़ी केंद्र के निर्माण की, दुतीबांगड में पंचायत घर के पुननिर्माण, ग्राम पंचायत कनार देवी मंदिर हेतु 02 लाख की घोषणा, तल्लाकोट मेलास्थल व सौन्दर्यीकरण हेतु 03 लाख की घोषणा, निशुल्क भूमि उपलब्ध कराये जाने पर बरम में पर्यटन आवास गृह के निर्माण की घोषणा, कावली गराली में पुलिया निर्माण की घोषणा, जी0आइ0सी बरम के खेल मैदान को स्टेडियम के रूप में  विकसित करने हेतु 05 लाख रू0 देने की घोषणा, जी0आइ0सी0 जौलजीबी में एक अतिरिक्त कक्ष निर्माण की घोषणा, लुमती हाईस्कूल का उच्चीकरण, प्रा0वि0 दाडि़मकाटा भवन निर्माण की घोषणा, पयापौरी मार्ग में दो गाड़ वाली में मोटर मार्ग की घोषणा समेत ििशवर में जनता की समस्याओं के समाधान साथ ही मुख्यमंत्री जनता से रूबरू हुए।
मुख्यमंत्री द्वारा शिविर में विभिन्न विभागों द्वारा लगाये गये स्टालों का भी निरीक्षण किया गया। शिविर में मुख्यमंत्री द्वारा स्थानीय किसानों को 1500 अखरोट एवं सेब के पौधे वितरण के साथ ही मडुवा प्रोत्साहन राशि के चेक वितरित किये गये। शिविर में विभिन्न विभाागों के स्टालों के माध्यम से क्षेत्रीय जनता को योजनाओं का लाभ दिया गया।
शिविर में बरम के प्रधान नवीन परिहार द्वारा मुख्यमंत्री श्री रावत को कनार का प्रसिद्ध घी भेंट किया गया। शिविर में अध्यक्ष वन विकास निगम हरीश धामी द्वारा मुख्यमंत्री के सामने नोटीफाईट ऐरिया छियालेख को पुनः जौलजीबी लाने व क्षेत्र के प्रत्येक गांव केा मोबाइल संचार सुविधा से जोड़े जाने की मांग मुख्यमंत्री के सामने रखी।
शिविर में अध्यक्ष जिला पंचायत चम्पावत खुशाल सिंह अधिकारी, उत्तराखण्ड जनजाति आयोग के उपाध्यक्ष कैलाश रावत, क्षेत्र प्रमुख धारचूला नेत्र सिंह कुवर, क्षेत्र प्रमुख मुनस्यारी नरेन्द्र रावत, जिलाधिकारी एच0सी0सेमवाल, पुलिस अधीक्षक आर0एल0शर्मा, उपजिलाधिकारी धारचूला संतोष पाण्डेय, उपजिलाधिकारी मुनस्यारी, समेत विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं क्षेत्रीय जनता आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here