Tuesday, August 4th, 2020

ईरान में यूक्रेन प्लेन क्रैश की जांच में शामिल होगा अमेरिका

वाशिंगटन ,ईरान की राजधानी तेहरान में हुए यूक्रेन के एक प्लेन क्रैश हादसे की जांच में संयुक्त राष्ट्र अमेरिका शामिल होगा। अमेरिकी नेशनल ट्रांसपोर्टेशन सेफ्टी बोर्ड ने गुरुवार को कहा कि यह यूक्रेन के बोइंग विमान हादसे की जांच में शामिल होगा, जो ईरान की राजधानी तेहरान में क्रैश हुआ था। दरअसल, बुधवार को ईरान की राजधानी तेहरान में यूक्रेन का प्लेन क्रैश हो गया था, जिसमें करीब 176 यात्रियों की मौत हो गई थी।

अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट किए गए एक बयान में अमेरिकी परिवहन सुरक्षा एजेंसी  राष्ट्रीय परिवहन सुरक्षा बोर्ड ने कहा कि उसके रिस्पोंस ऑपरेशंस सेंटर को यूक्रेन अंतरार्ष्ट्रीय एयरलाइंस की उड़ान पीएस752 के दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद ईरान के नागरिक उड्डयन संगठन द्वारा विमान दुर्घटना जांच बोर्ड से औपचारिक अधिसूचना प्राप्त हुई है। बता दें कि यूक्रेन का अमेरिका द्वारा निर्मित बोइंग 737 विमान तेहरान एयरपोर्ट से टेकऑफ करने के कुछ मिनट बाद ही नीचे गिर गया था, जिससे यह बड़ा हादसा हुआ। यह हादसा ठीक उस घटना के बाद हुआ, जिसमें ईरान ने ईराक में स्थित अमेरिकी सैन्य ठिकानों पर मिसाइलें दागी थीं।
 
यूएस नेशनल ट्रांसपोर्टेशन सेफ्टी बोर्ड ने विमान हादसे की जांच केलिए एक अधिकृत प्रतिनिधि को नामित किया है। बता दें कि ईरान का दावा है कि यूक्रेन का विमान खामी सामने आने के बाद विपरीत दिशा में मुड़ गया था, जिसकी वजह से यह हादसा हुआ है। वहीं, अमेरिका का दावा है कि ईरान ने गलती से यूक्रेन के विमान को मार गिराया।

इरान ने दावा खारिज किया:
इससे पहले ईरान ने कहा कि विमान हवाई अड्डे से उड़ान भरने के बाद शुरूआत में पश्चिम की ओर रवाना हुआ, लेकिन समस्या आने के बाद विपरीत दिशा में पलटा और दुर्घटना के समय हवाई अड्डे की तरफ आ रहा था। यूक्रेन के विमान ने बुधवार सुबह 6:12 बजे उड़ान भरी थी। विमान ने तेहरान के इमाम खुमेनी एयरपोर्ट से करीब एक घंटे की देरी से उड़ान भरी। विमान पश्चिम की ओर करीब 8000 फुट की ऊंचाई पर पहुंच गया था। अधिकारियों ने बताया कि विमान में विभिन्न देशों के 167 यात्री और चालक दल के नौ सदस्य थे जिनमें से 82 ईरानी नागरिक, 63 कनाडाई और 11 यूक्रेन के नागरिक थे।

ईरान की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि यूक्रेन इंटरनेशन एयरलाइंस द्वारा संचालित बोइंग 737 अचानक अटक गया, जिसके कारण विमान तेहरान में इमाम खुमैनी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से उड़ान भरने के कुछ ही देर बाद नीचे गिर गया। दुर्घटना से कुछ घंटे पहले ही ईरान ने इराक में अमेरिकी सैन्य ठिकानों पर मिसाइल हमले किये। अमेरिका और ईरान के बीच टकराव की स्थिति चल रही है। अमेरिका ने ईरान के रिवॉल्यूशनरी गार्ड जनरल कासिम सुलेमानी को पिछले सप्ताह ड्रोन हमले में मार गिराया था। PLC

Comments

CAPTCHA code

Users Comment