नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर में हालात धीरे-धीरे सामान्य हो रहे हैं. जनजीवन ट्रैक पर आने लगे हैं. प्रशासन ने भी कई इलाकों में सख्ती में कमी की है. शनिवार को पूरे घाटी में BSNL लैंडलाइन सेवा बहाल की गई. आज उधमपुरा, जम्मू, सांबा, किश्तवाड़ा जैसे क्षेत्रों में इंटरनेट सेवा भी बहाल कर दी गई है. धीरे-धीरे पाबंदियों को हटाया जा रहा है. श्रीनगर के सिविल लाइंस इलाके में लगी पाबंदी को हटा दिया गया है. शहर के राजबाग, जवाहरनगर, संतनगर, हैदरपुरा, पीरबाग और एयरपोर्ट से लेकर राजबाग तक कोई पाबंदी नहीं है.

फिलहाल, घाटी में सुरक्षा में कोई कमी नहीं की गई है. सुरक्षाबलों की मौजूदगी वैसी ही है, हालांकि प्रशासन ने आवाजाही पर लगी रोक को अलग-अलग क्षेत्रों में आंशिक और पूर्ण रूप से हटाने का फैसला किया है. फिलहाल, लो स्पीड इंटरनेट को 35 पुलिस स्टेशन क्षेत्र में लागू किया गया है. हाई स्पीड इंटरनेट को लेकर प्रशासन बाद में फैसला लेगा. लोगों को दिक्कत ना हो इसके लिए श्रीनगर में प्रशासन ने घरों तक LPG सिलेंडर पहुंचाने का भी फैसला किया है.


प्रशासन की तरफ से राजौरी, पुंछ, डोडा, किश्तवाड़ और रामबन जैसे क्षेत्रों में दिन में पाबंदी हटा ली गई है. प्रधान सचिव रोहित कंसल ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के बीच आवाजाही सामान्य रूप से शुरू हो गया है. सोमवार को पूरे कश्मीर में स्कूल और कॉलेज खुल जाएंगे. जानकारी के मुताबिक, 19 अगस्त को घाटी में 190 स्कूल खुलेंगे.PLC.