Wednesday, December 11th, 2019

आम व्यक्ति को आपस में जोड़ती है राजस्थानी भाषा

आई एन वी सी न्यूज़
जयपुर,
ऊर्जा मंत्री डॉ. बीडी कल्ला ने कहा कि राजस्थानी ही ऎसी भाषा है जो आम व्यक्ति को आपस में जोड़ने का काम करती है। इस भाषा की मिठास समाज को एक सूत्र में पिरोने का काम करती है। उन्होंने राजस्थान की पत्रकारिता को उच्च मापदंडों पर आधारित बताते हुए कहा कि राजस्थान के पत्रकारों ने निष्पक्ष और निर्भिक पत्रकारिता की है और यहां के पत्रकारों ने सरकार व जनता के बीच एक सेतु का काम किया है। खासकर छोटे और मध्यम अखबारों ने आमजन की समस्याओं को सरकार के सामने लाने का काम कर एक दर्पण की भूमिका निभाई है।

डॉ. कल्ला मंगलवार को यहां प्रेस क्लब में जलतेदीप समाचार पत्र द्वारा आयोजित माणक अलंकार समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने दैनिक जलते दीप समाचार पत्र की चर्चा करते हुए कहा कि इस समाचार पत्र में स्वच्छ पत्रकारिता के मापदंडों का बखूबी से पालन किया है। यह समाचार पत्र 50 वर्ष में पत्रकारिता की एक प्रयोगशाला बन गया है जिसने श्रेष्ठ पत्रकारिता को बढ़ावा दिया हैं।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य तथा सूचना व जनसम्पर्क मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि पत्रकारों के कल्याण में राज्य सरकार कोई कोर कसर नहीं छोड़ेगी। उन्होंने कहा कि पत्रकारों के कल्याण के बारे में राज्य सरकार चिंतित रहती हैं। राज्य सरकार का प्रयास है कि पत्रकारों की समस्याओं का निराकरण हो जिससे वे अच्छे वातावरण में काम कर सकें।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा पत्रकारों के कल्याण के लिए निरंतर कार्य किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा पत्रकारों को आवास उपलब्ध कराने और पेंशन जैसे फैसलों से राज्य सरकार द्वारा पत्रकार कल्याण की भावना परिलक्षित होती है।

उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में मीडिया का महत्वपूर्ण स्थान है। मीडिया द्वारा समाज में हो रहे अत्याचार, अन्याय और शोषण के विरूद्ध आवाज उठाने का काम किया जाता रहा है। अगर मीडिया कमजोर होगा, तो देश का लोकतंत्र भी कमजोर होगा। जिस तरह आज प्रिंट और इलेक्ट्रोनिक मीडिया के समाने घुटन की स्थिति पैदा हुई है, वह मीडिया के लिए शुभ संकेत नहीं है। उन्होंने कहा कि किसी भी देश के लोकतंत्र को महफूज करने रखने के लिए जरूरी है कि मीडिया को स्वतंत्र और जिंदा रखा जाए। उन्होेंने कहा कि राजस्थान के पत्रकारों द्वारा देश और प्रदेश की पत्रकारिता को सशक्त बनाए रखने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. शर्मा ने कहा कि सरकार द्वारा अगले दो वर्ष तक महात्मा गांधी के 150 वीं जयंती वर्ष को समारोह पूर्वक मनाया जाएगा। सरकार द्वारा सभी जिलों में तीन दिवस तक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। इन कार्यक्रमों में महात्मा गांधी के जीवन और सिद्धांतों के बारे में नई पीढ़ी को रूबरू करवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि नई पीढ़ी को हमारे महापुरूषों के जीवन और आजादी के लिए किए गए उनके संघर्ष के बारे में जरूर जानकारी होनी चाहिए।

डॉ. शर्मा ने कहा कि जलतेदीप समाचार पत्र द्वारा राजस्थानी भाषा को मान्यता दिलाने के जो प्रयास चल रहे हैं, यह प्रयास एक दिन रंग भी लाएगें। उन्होंने आश्वस्त किया कि राजस्थानी भाषा को मान्यता दिलाने के उनके प्रयास में राज्य सरकार द्वारा पूरा सहयोग किया जाएगा। इससे पूर्व कई पत्रकारों और जनसम्पर्क कर्मियों को सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम में राजस्थान विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष श्री गुलाब चंद कटारिया, हरिदेश जोशी पत्रकारिता विश्वविद्यालय के कुलपति श्री ओम थानवी और कार्यक्रम संयोजक श्री पदम मेहता सहित बड़ी संख्या में पत्रकार और अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।



 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment