आम बजट -2010 , वित्तमंत्री ने उतारे भूखो के चीथड़े भी !

23
37

जाकिर हुसैन ,,,,

जब आम आदमी त्रस्त होगा तो  शुरू होगी चैनलों पर हमेशा की तरहा बे- मतलब , -बे-नतीजा बहस ! विपक्ष हो हल्ला करेगा! एक साल निकल जाएगा तब तक आम आदमी और मर जाएगा !

वित्तमंत्री प्रणव मुखर्जी ने आम बजट में भूखे को और भूखा कर दिया तो मौत  की  दहलीज़ पड़े गरीब को तो मर ही दिया! इतनी सारी योजनायो की शुरुआत फिर भी दूर -दराज में बसे उस आम हिन्दुस्तानी के लिए कुछ  नहीं हैं! जो हजारो साल से शोषण का शिकार है !

इस आज़ाद देश में गुलामो से बदतर हालातो में अपना जीवन यापन कर रहा है ! जिसे आज भी जिंदा रहने के लिए कमरतोड़ मेहनत करनी पडती हैं और शाएद ही कभी दोनों वक़्त भर पेट खाना नसीब होता हैं !

वोह आम हिन्दुस्तानी जो दूर -दराज़ के इलाको,गाव ,जंगलो,कस्बो ,हर छोटे – बड़े -शहरो   में रहता है या महानगरो की सडको ,गंदे नालो के किनारे ,रेल की पटड़ी के के किनारे, ,झुग्गी -झोपडी बस्ती रहता है !

जो  मात्र  जिंदा रहने के लिए जो कही ठेला चलता है ,भोझा उठाता है ,मैला साफ करता है ,  खेती हर है  तो कही  बधुआ मजदूर है!

ये आम आदमी जो कही भी मिल जाता है ! जो हर क्षेत्र में पिछड़ा ! जो बस ज़िंदा रहना चाहता है ! जिसे विकास का मतलब किसी का नाम मात्र महसूस होता हैं और शेएर बाज़ार .  जी .डी.पी . बला -बला  का मतलब तक भी नहीं जानता  !

उस आम हिन्दुस्तानी के लिए कुछ नहीं जो  समाज मुख्य धारा तो क्या मानवीय धरा से  भी अलग – थलग पडा है और जब हिम्मत हार जता हैं तो खुद ही मौत को गले लगा लेता है !

जिसके नाम हर साल सरकार कई योजनाये बनाती है और कब कागजी कर्येवाही पूरी होकर! योजनाये पूरी हो जाती है उस आम हिन्दुस्तानी पता भी चलता! गूसखोरी ,दलालों का   मकडजाल  और सरकारी बाबुओ का बरताव इस आम इन्सान को अपने हक से महरूम करने में कोई कसर नहीं छोड़ते !

गोरतलब की पेट्रोल-डिजल के बड़ते  दाम सबसे पहले  आम आदमी की जेब  को सीधा डीला करते  है और यही से शुरुआत होती है आम आदमी की थाली के साथ साथ उसकी ज़िन्दगी में भी  छेद की ! पहले   किराये ,फिर एक दम हर उस चीज़ के दम बड़ते है जो आम आम आदमी के  ज़िंदा रहने के ज़रूरी है !

सरकार को इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता  की आम आदमी की कमाई बड़ी के नहीं ! उसे आज भर पेट रोटी मिली के नहीं ! इसके सर पर छत हैं की नहीं या इस आम आदमी के पास जिंदा रहने के लिए मूलभुत सुविधाए है की नहीं !

जब आम आदमी त्रस्त होगा तो  शुरू होगी चैनलों पर हमेशा की तरहा बे- मतलब , -बे-नतीजा बहस ! विपक्ष हो हल्ला करेगा! एक साल निकल जाएगा तब तक आम आदमी और मर जाएगा !

वित्तमंत्री ने अपने  बजट में जैसे  ही पेट्रोल डीज़ल के दम बढाने की बात कही तभी  यूं पी ये के अलावा बाकि पूरा विपक्ष सदन से बहार आ गया !

लालू प्रसाद यादब,शुषमा स्वराज ,मुलायम सिंह यादव के साथ साथ वाम पंथियो ने भी इसे जन विरोधी बजट बताया तो लालू प्रसाद सब एक साथ मिल कर सडको पर और  आनदोलन तक करने की धमकी दे दी
वाही दुसरी और जिनके के लिए बजट सही था उनके चेहरे खिले उसका ताज़ा जीता जगता उदाहरन है शेएर बाज़ार का ऊपर आना !

05india_ca06001

23 COMMENTS

  1. Superb blog post, this is very similar to a site that I have. Please check it out sometime and feel free to leave me a comenet on it and tell me what you think. I’m always looking for feedback.

  2. I was looking for crucial information on this subject. The information was important as I am about to launch my own portal. Thanks for providing a missing link in my business.

  3. Outstanding article, this is very similar to a site that I have. Please check it out sometime and feel free to leave me a comenet on it and tell me what you think. Im always looking for feedback.

  4. Really good site, where did you come up with the knowledge in this blog post? I’m pleased I found it though, ill be checking back soon to see what other articles you have.

  5. Не сразу понял, в чем дело. Но перечитав, все стало понятно. )

  6. This is a good article, I was wondering if I could use this post on my website, I will link it back to your website though. If this is a problem please let me know and I will take it down right away.

  7. Superb blog post, this is very similar to a site that I have. Please check it out sometime and feel free to leave me a comenet on it and tell me what you think. I’m always looking for feedback.

  8. I’m happy I discovered this blog site, I couldnt discover any knowledge on this matter before. Also operate a website and if you want to ever serious in a little bit of guest writing for me you should feel free to let me know, i’m always look for people to check out my webpage. Please stop by and leave a comment sometime!

  9. I have read a few of the articles on your website now, and I really like your style of blogging. I added it to my favorites webpage list and will be checking back soon. Please check out my site as well and let me know what you think.

  10. budget mein bukho ke lia food security act laneki baat kahi gayee hai per aaj ki sachai yahi hai ki petrol diesel ke rate increase se logon ki pocket per fark padega

  11. ye to wahi kahawat hui ki nachna awae na aur angan teedaha bata diya..
    yani na 9 man teel hoga na radha nachegi..
    ye kaisa budget hai..lagta hai ki ab aam admi ka rahna bhi mushkil hoga…
    aur yaha tak ki sans lena bhi mushkil ho jayega…hawa paani par bhi tex lagega…
    zakir u have done great job!!!

  12. sir sacchai ko prastut karne ka aapka tarika bahut hi asardaar aur anokha hai..likhte to sabhi hain lekin aapki lekhni majboor kar deti hai sochne ko…..aaj budget to sara hindustan dekha hoga lekin is nazar se bahut kum hi logon ne…thanx sir ….aapse hamesha sikhne ko milta hai….

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here