आई.एन.वी.सी,,
जयपुर,,
             मुयमंत्री श्री अशोक गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार समाज के गरीब एवं पिछड़े तबकों सहित आम आदमी के लिए सस्ते एवं सुविधाजनक आवास की बुनियादी आवश्यकता को पूरा करने के लिए संकल्पबद्ध है। उन्होंने भवन निर्माण क्षेत्र से जुड़े बिल्डरों से अपनी निगमित-सामाजिक जिमेदारी निभाने का आह्वान करते हुए कहा कि वे वाटर हावेüस्टिंग ढांचों तथा सौर ऊर्जा संयंत्रों आदि के निर्माण के माध्यम से भूजल एवं बरसाती जल के साथ ही ऊर्जा संरक्षण की दिशा में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे सकते हैं।
मुयमंत्री सोमवार शाम को यहां बिडला सभागार में दैनिक भास्कर समूह की ओर से जयपुर रियल एस्टेट अवार्ड-2012 समारोह में संबोधित कर रहे थे। श्री गहलोत ने समारोह में भवन निर्माण के क्षेत्र से जुड़े उद्यमियों एवं नियोजकों को दैनिक भास्कर समूह की ओर से विभिन्न श्रेणियों में उपलçब्धयों, रचनात्मकता, प्रबंधन एवं नवाचार से जुड़े श्रेष्ठता पुरस्कार प्रदान किए।
इस अवसर पर मुयमंत्री ने नगरीय विकास विभाग के प्रमुख शासन सचिव श्री जी. एस. संधु को क्वक्वराजस्थान के नियोजित शहरी विकास में विशिष्ट योगदान के लिए दैनिक भास्कर समूह के चैयरमेन च्वाइस अवार्डक्वक्व से भी समानित किया।
श्री गहलोत ने कहा कि सुनियोजित शहरी विकास राज्य सरकार की प्राथमिकता है। समाज के आर्थिक दृष्टि से कमजोर व अल्प आय वर्ग को आवास उपलब्ध कराने के लिए सरकार ने अफोडेüबल हाउसिंग योजना लागू की है। अफोडेüबल हाउसिंग क्षेत्र की समस्याओं को दूर करने का हम प्रयास कर रहे हैं।
मुयमंत्री ने कहा कि आम आदमी को आवास सुविधा मुहैया कराने में रियल एस्टेट क्षेत्र की भी महत्वपूर्ण भूमिका है। जयपुर में इस दिशा में काफी काम हुआ है। उन्होंने समारोह में समानित होने वाले सभी पुरस्कार विजेताओं को बधाई देते हुए कहा इससे उन्हें बेहतर कार्य करने के लिए प्रोत्साहन मिलेगा।
मुयमंत्री ने सभी भवन निर्माताओं से अपेक्षा की कि वे 300 मीटर एवं इससे अधिक भूखंडों पर निर्माण कार्य में वर्षा जल ढांचों के निर्माण की अनिवार्यता, पार्किंग सहित अन्य मूलभूत सुविधाएं मुहैया कराने संबंधी जिमेदारी का निर्वहन करेंगे।
इस अवसर पर ऊर्जा मंत्री डॉ. जितेन्द्र सिंह ने कहा कि जयपुर शहर एक सुंदर एवं नियोजित वास्तुकला का उत्कृष्ट उदाहरण है। उन्होंने भवन निर्माताओं से कहा कि वे विरासत में मिली वास्तुकला की परपरा को आगे बढ़ाने के साथ ही भवन निर्माण प्रणाली में प्रदूषण रहित सौर ऊर्जा उपकरणों तथा पानी के संचयन की महत्ता को प्राथमिकता दें।
ऊर्जा मंत्री ने कहा कि राजस्थान में सौर ऊर्जा के क्षेत्र में व्यापक संभावनाएं हैं। राज्य सरकार इस क्षेत्र को प्रोत्साहन दे रही है जिसका परिणाम है कि आज प्रदेश सोलर एनर्जी हब बनता जा रहा है।
इससे पहले दैनिक भास्कर समूह के चैयरमेन श्री रमेशचंद्र अग्रवाल ने कहा कि जयपुर शहर में रियल एस्टेट सेक्टर में उत्कृष्टता एवं श्रेष्ठता से कार्य कर रहे उद्यमियों को प्रोत्साहन एवं शहर के विकास में उनके योगदान के लिए समानित करने के लिए समूह की ओर से एक नई परपरा की शुरूआत की गई है। उन्होंने कहा कि सूचना प्रौद्योगिकी तथा वित्तीय सेवाओं के क्षेत्र के विकास की व्यापक संभावनाओं को देखते हुए राजस्थान फाइनेंशियल हब बन सकता है।
दैनिक भास्कर के सपादकीय सलाहकार डॉ. महेन्द्र सुराणा ने समारोह के संचालन के साथ ही विजेताओं के चयन प्रक्रिया की जानकारी भी दी। इस अवसर पर बड़ी संया में भवन निर्माण एवं रियल एस्टेट क्षेत्र से जुड़े लोग उपस्थित थे।

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here