images (2)आई एन वी सी,

लखनऊ,

जिस ”झाड़ू” ने अपने दम पर और आम आदमी की ताक़त के साथ पिछले पन्द्रह सालोँ से दिल्ली पे शासन कर रही कांग्रेस की सरकार को सत्ता से उखाड़ फेंकने की हिम्मत दिखाई है लगता है वही झाड़ू अब आम आदमी पार्टी के लिए परेशानी का सबब बन गई है।

गौर तलब है कि नैतिक पार्टी के अध्यक्ष पांडेय ने यह आरोप लगाया है कि चुनाव आयोग ने पहले ”झाड़ू” चुनाव चिह्न उनकी पार्टी को दिया और बाद में इसी चुनाव ‌चिह्न को आयोग ने आम आदमी पार्टी को दे दिया, जबकि इस पर नैतिक पार्टी का हक है। नैतिक पार्टी की दलीलों को सुनने और विचार करने के बाद जस्टिस राजीव शर्मा और जस्टिस महेंद्र दयाल की बेंच ने आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और चुनाव आयोग को नोटिस भेजकर जवाब मांगा है।

इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल को इसी वजह से नोटिस भेजकर जवाब मांगा है। आम आदमी पार्टी के चुनाव चिह्न झाड़ू के चलते कोर्ट ने केजरीवाल से जवाब तलब किया है। दरअसल उत्तर प्रदेश स्थिति नैतिक पार्टी के अध्यक्ष चंद्रभूषण पांडेय ने आम आदमी पार्टी को मिले चुनाव चिह्न झाड़ू पर ऐतराज़् जताते हुए कहा है कि इस चुनाव चिह्न झाड़ू पर हमारा हक़ है। उन्होंने इसी के मद्देनज़र् हाईकोर्ट में रिट दाखिल की थी। उनका दावा है कि पिछले ‌लोकसभा चुनाव में चुनाव आयोग ने ‘झाड़ू’ चुनाव चिह्न के रूप में उनकी पार्टी को दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here