Close X
Tuesday, June 22nd, 2021

आतंरि‍क सुरक्षा की चुनौतियों से निपटने की अपनी क्षमता को मजबूत करने के उपायों पर हम कुछ संतोष प्रकट कर सकते हैं : प्रधानमंत्री

जाकिर हुसैन,, आई. अन. वी. सी ,, दिल्ली ,, प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने आज सुबह यहां आंतरिक सुरक्षा पर मुख्‍यमंत्रियों के सम्‍मेलन का शुभारंभ किया। इस विषय पर यह चौथ सम्‍मेलन है। प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में कहा है कि आतंरि‍क सुरक्षा की चुनौतियों से निपटने की अपनी क्षमता को मजबूत करने के उपायों पर हम कुछ संतोष प्रकट कर सकते हैं। उन्‍होंने कहा कि नवंबर 2008 के बाद शुरू किये गये इन उपायों के परिणाम मिलने शुरू हो गये है। प्रधानमंत्री ने कहा कि वर्ष 2010 में दुर्घटनाओं और सुरक्षाबलों के हताहत होने की संख्‍या में पिछले साल की तुलना में कमी हुई है, हालांकि नागरिकों के हताहत होने के मामले बढ़े है। डॉ. मनमोहन सिंह ने इस बात पर जोर दिया कि अनुसूचित जातियों, अनुसूचित जनजातियों, अल्‍पसंख्‍यकों और महिलाओं के समक्ष पेश आ रही समस्‍याओं के बारे में हमारे पुलिस अधिकारियों को विशेष रूप से संवदेनशील होने की जरूरत है। इस सम्‍मेलन का आयोजन गृहमंत्रालय ने किया। सम्‍मेलन में राज्‍यों के मुख्‍यमंत्री एवं केंद्रित शासित प्रदेशों के उप राज्‍यपाल/प्रशासक भी शामिल हुए। केंद्रीय रक्षा मंत्री, वित्‍त मंत्री और केंद्रीय गृह राज्‍य मंत्री भी सम्‍मेलन में शामिल हुए। इस अवसर पर केंद्रीय गृह मंत्री श्री पी.चिदम्‍बरम ने अपने भाषण में देश में सुरक्षा की स्थिति की स्थिति जानकारी दी। उन्‍होंने पिछले सम्‍मेलन के बाद से सुरक्षा संबंधी विभिन्‍न पहलुओं पर हुई प्र‍गति पर भी प्रकाश डाला। श्री चिदम्‍बरम ने कहा कि पिछले दो वर्षों में आंतरिक सुरक्षा की स्थिति में व्‍यापक सुधार हुआ है, क्‍योंकि केंद्र और राज्‍य सरकारों के बीच सहयोग बढ़ा है। गृहमंत्री ने कहा कि नक्‍सलवाद अब भी बहुत बड़ी चुनौती बना हुआ है और इसके लिए अपनाई जा रही दोहरी रणनीति अर्थात विकास तथा पुलिस कार्रवाई दोनों साथ-साथ चलाने की नीति में कोई परिवर्तन नहीं हुआ है। गृह मंत्री ने आंतरिक सुरक्षा पर मुख्‍यमंत्रियों के सम्‍मेलन को हर साल आयोजित करने पर खुशी प्रकट की। उन्‍होंने कहा कि हर सम्‍मेलन के बाद निकले निष्‍कर्षों के आधार पर केंद्र सरकार और राज्‍य सरकारों को आंतरिक सुरक्षा की चुनौतियों से निपटने में अपनी क्षमता बढ़ाने के लिए मदद मिली है। उन्‍होंने सम्‍मेलन का शुभारंभ करने का अनुरोध मानने पर प्रधानमंत्री के प्रति आभार प्रकट किया।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment