Close X
Thursday, April 22nd, 2021

आडवाणी-जोशी सहित बाकी नेताओं पर चल रहे मुकदमो को बंद कर देना चाहिए

नई दिल्ली । अयोध्या में भगवान श्रीराम के भव्य मंदिर निर्णाण के लिए भूमि पूजन से पहले भाजपा के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने सरकार से आडवाणी-जोशी पर केस बंद करने की गुहार लगाई है। स्वामी ने कहा कि पीएम को भूमि पूजन करने से पहले लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी समेत बाकी नेताओं पर चल रहे विवादित ढांचे के मुकदमे को बंद कर देना चाहिए। स्वामी ने कहा कि इन नेताओं ने किसी मस्जिद को नहीं तोड़ा बल्कि वहां पहले से बने मंदिर को पुनर्निर्माण के लिए उसका मलबा गिराया।


पीएम के अयोध्या दौरे से पहले सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट करके बाबरी मुकदमे को फिर से उठा दिया है। स्वामी ने ट्वीट करके कहा कि अयोध्या जाने से पहले पीएम को आडवाणी, जोशी समेत बाकी नेताओं पर चल रहे कथित मस्जिद विध्वंस के मुकदमे को खत्म कर देना चाहिए। इन नेताओं ने किसी मस्जिद को नहीं तोड़ा। वहां पर पहले से मंदिर था जिसे तोड़कर वहां पर विवादित ढांचा खड़ा किया गया था। इस बात को सुप्रीम कोर्ट ने भी स्वीकार किया है। इन नेताओं ने पहले से स्थापित उस मंदिर का पुननिर्माण करने के लिए केवल उसका मलबा गिराया था।


स्वामी का यह ट्वीट वायरल हो गया है। हालांकि इस ट्वीट पर अभी तक सरकार की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।
ज्ञात हो कि राम मंदिर का भूमि पूजन 5 अगस्त को होने जा रहा है। श्री अयोध्या तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि बनने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी को न्योता भेजा है जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया है। पीएम मोदी 5 अगस्त को सुबह 11 बजे से दोपहर 1 बजे तक अयोध्या में रहेंगे। इस दौरान वे भूमि पूजन के अलावा ट्रस्ट के सदस्यों और अयोध्या के संतों से भी मुलाकात करेंगे। पीएम के हनुमानगढी मंदिर और सरयू स्नान की भी संभावना जताई जा रही है। पीएम के साथ ही सीएम योगी और गवर्नर आनंदीबेन पटेल का भी उस दिन अयोध्या में रहना तय माना जा रहा है।
भूमि पूजन के साथ ही अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण शुरू हो जाएगा जो करीब तीन साल तक चलेगा। मंदिर की कुल ऊंचाई 161 होगी जिसमें 5 शिखर होंगे। इसके अलावा अयोध्या में नए सिरे से बिजली, पानी, सीवर, सड़क और धर्मशालाओं का भी निर्माण किया जाएगा। पीएलसी।PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment