Saturday, August 15th, 2020

आज की रात अँधेरे से उजाले की रात - आज रात 9 बजे 9 मिनट बस 

वैश्विक महामारी कोरोना से निपटने के लिए 130 करोड़ भारतीय चुनौतियों के अंधेरे को परास्त करने के लिए हौसले और एकजुटता से उम्मीदों का उजाला करेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार रात नौ बजे नौ मिनट के लिए घर की बत्तियां बुझाकर दीया, मोमबत्ती या मोबाइल फ्लैश लाइट जलाने का आह्वान किया है। शनिवार को उन्होंने पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की कविता का वीडियो ट्विटर पर साझा करते हुए लिखा है- आओ दीया जलाएं। अंधेरे को परास्त करेंगे भारतीय ...लेकिन लक्ष्मण रेखा न लांघें
दुनियाभर में 11 लाख से ज्यादा लोगों को चपेट में ले चुके संक्रमण के खिलाफ देश में सामूहिक शक्ति का प्रदर्शन करने के लिए पीएम मोदी ने घर की बालकनी या दरवाजे पर खड़े होकर दीया जलाने को कहा है। उन्होंने लक्ष्मण रेखा की याद दिलाते हुए कहा था कि घर से ही यह काम करें। दुनिया को प्रकाश की ओर जाना है। उस प्रकाश में, उस रोशनी में, उस उजाले में, हम मन में संकल्प करें कि अकेले नहीं हैं, कोई भी अकेला नहीं है।

सावधान: हाथों पर सैनिटाइजर न लगा हो
सेना ने सलाह दी है कि दीया जलाने से पहले सुनिश्चित कर लें कि हाथ पर सैनिटाइजर न हो। अगर सैनिटाइजर है, तो साबुन से हाथ जरूर धो लें। इसमें अल्कोहल होने से आग पकड़ने का खतरा होता है।

ध्यान दें : सिर्फ बत्ती बंद... फ्रिज-पंखे चलेंगे
केंद्रीय ऊर्जा मंत्रालय ने स्पष्ट किया कि पीएम ने घरों की बत्तियां बंद करने की अपील की है। टीवी, फ्रिज, पंखे, कंप्यूटर, एसी चलते रहेंगे। अस्पतालों, पुलिस थानों, स्ट्रीट लाइट समेत अन्य जरूरी सेवाओं में बिजली जलती रहेंगी।

सच: ग्रिड फेल होने की बात अफवाह

नौ मिनट बत्ती बंद होने से देश में बिजली खपत 12 से 15 गीगाबाइट तक घट सकती है। यूपी में ही तीन हजार मेगावाट कमी का अनुमान है। ऊर्जा मंत्रालय ने कहा कि इससे निपटने की पूरी तैयारी है। मांग घटने से ग्रिड फेल होने की बात महज अफवाह है।

सियासत : कांग्रेस के सवाल

कांग्रेस ने कहा, पूरे देश में एक साथ बिजली बंद होने से मांग में अचानक कमी आने से ग्रिड को खतरा हो सकता है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा, देश में कोरोना की जांच पर्याप्त नहीं हो रही है। ताली बजवाने या टॉर्च से आसमान रोशन करने से समस्या का समाधान नहीं होगा। PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment