Saturday, December 14th, 2019

आईआरसीटीसी ने वर्ष 2008-09 के दौरान अपनी कुल आय में 17.3 प्रतिशत वृध्दि दर्ज की

ब्यूरो नई दिल्ली. भारतीय रेल खान-पान और पर्यटन निगम लिमिटेड (आईआरसीटीसी) ने वर्ष 2008-09 के दौरान कुल आय में 17.3 प्रतिशत वृध्दि दर्ज की है । आईआरसीटीसी रेल मंत्रालय के अधीन एक सार्वजनिक उपक्रम है । वर्ष के दौरान कंपनी की कुल आय विगत वर्ष के  527.66 करोड़ रूपये से बढक़र 618.77 करोड़ रूपये हो गई।  राजस्व में वृध्दि और व्यय पर नियंत्रण के फलस्वरूप आईआरसीटीसी को वित्त वर्ष 2008-09 के लिए 46.50 करोड़ रुपये का कर पश्चात मुनाफा (शुध्द मुनाफा) प्राप्त हुआ, जबकि वर्ष 2007-08 में यह 20.75 करोड़ था । कंपनी ने 46 प्रतिशत के लाभांश की घोषणा की है । यह लाभांश 9.31 करोड़ रुपये का है, जो 1.58 करोड़ रुपये के लाभांश कर को छोड़कर है।  वर्ष 2008-09 के दौरान आईआरसीटीसी वेबसाइट www.irctc.co.in के माध्यम से 4.41 करोड़ टिकटें बुक की गईं जबकि विगत वर्ष में 1.89 करोड़ टिकटें बुक की गयी थीं । वर्ष के दौरान 3889 करोड़ रुपये मूल्य की टिकटें बुक की गयीं जबकि विगत वर्ष में इस प्रकार 1705 करोड़ रुपये प्राप्त हुए थे । इस प्रकार से टिकट बुकिंग की संख्या बढक़र प्रतिदिन 2,26,925 टिकटों तक पहुंच गयी।    आईआरसीटीसी ने खान-पान सेवाओं की गुणवत्ता में चहुमुंखी सुधार के लिए कई कदम उठाए हैं । इनमें नई दिल्ली, मुम्बई, कोलकाता, चेन्नई और सिकन्दराबाद में फोन, फैक्स और ब्रॉडबैंड कनेक्शनयुक्त पर्सनल कम्प्यूटर वाले नियंत्रण कक्ष स्थापित करना, यात्रियों की शिकायतों और उनके सुझावों के शीघ्र निपटारे के लिए टोल फ्री नं0 1800-111-139 और 9771-111-139 स्थापित करना, जिससे यात्री फोन अथवा एसएमएस के माध्यम से संपर्क कर सकते हैं, जैसे कदम शामिल हैं।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment