Close X
Wednesday, December 2nd, 2020

अशोक कुमार सिंह चन्देल बी.एस.पी से निष्कासित

आई.एन.वी.सी,, लखनऊ,, बहुजन समाज पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष श्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा है कि जनपद हमीरपुर के सदर विधान सभा क्षेत्र के विधायक श्री अशोक कुमार सिंह चन्देल को अपने क्षेत्र की जनसमस्याओं में रुचि न लेने और संगठन तथा बी0एस0पी० कार्यकर्ताओं से तालमेल न बनाने के कारण माननीया मुख्यमंत्री जी ने उन्हें बी0एस0पी0 से निष्कासित कर दिया है। श्री मौर्य ने कहा कि श्री चन्देल समाजवादी पार्टी  के टिकट पर निर्वाचित हुए थे और पिछले एक वर्ष से बी0एस0पी0 के साथ कार्य कर रहे थे और कुछ माह पूर्व औपचारिक रूप से बी0एस0पी0 में शामिल भी हो गये थे। इसके बाद भी वह बी0एस0पी0 की नीतियों और विचारधारा से अपने को जोड़ नहीं पाए। इसके साथ ही अपने क्षेत्र की जनसमस्याओं की ओर कोई ध्यान नहीं दिया और न ही जनता से कोई सम्पर्क रखा। वह संगठन तथा पार्टी कार्यकर्ताओं से भी समन्वय नहीं बना पा रहे थे। श्री चन्देल पार्टी विरोधी गतिविधियों में भी लगातार शामिल थे और इस सम्बन्ध में उनके विधान सभा क्षेत्र तथा सगे सम्बन्धियों से तमाम शिकायतें प्राप्त हो रही थीं। श्री मौर्य ने कहा कि श्री चन्देल जब से बी0एस0पी0 में काम कर रहे थे, तब से वह संगठन और पुराने कार्यकर्ताओं से तालमेल नहीं बना पा रहे थे। बी0एस0पी0 में शामिल होने के समय उन्हें क्षत्रीय समाज को जोड़ने की जिम्मेदारी सौपी गयी थी, लेकिन वह अपने समाज से भी तालमेल बनाने में असफल हो रहे थे। इनकी विभिन्न गतिविधियों के बारे में इनके सगे सम्बन्धी लगातार माननीया मुख्यमंत्री जी से शिकायतें भेज रहे थे। इनके सगे सम्बन्धियों में उनके सगे भाई लल्लू सिंह, भतीजा अनुराग सिंह, बहनोई श्री कल्लू सिंह आदि ने माननीया मुख्यमंत्री जी से इनके द्वारा उत्पीड़न किए जाने की लिखित रूप से शिकायत की थी। इसके अलावा उनकी क्षेत्र की जनता एवं बी0एस0पी0 के लोगांे ने भी उनके द्वारा गाली-गलौज किए जाने तथा उत्पीड़न से सम्बन्धित गम्भीर शिकायतें की थीं। उन्होंने आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा कि जो जनप्रतिनिधि अपने सगे सम्बन्धियों को अपने साथ जोड़ नहीं सका, वह पार्टी के लिए कहां तक उपयोगी हो सकता है। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि बी0एस0पी0 एक अनुशासन प्रिय राष्ट्रीय पार्टी है, जो पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त किसी को भी बर्दाशत नहीं करती। उन्होंने कहा कि बी0एस0पी0 की नीतियों और विचारधारा के अनुसार आचरण न करने और अपने ही स्वार्थों को तरजीह देने के कारण श्री चन्देल को निष्कासित किया गया है

Comments

CAPTCHA code

Users Comment