Close X
Friday, September 24th, 2021

अयोध्या सप्तपुरियों में विशिष्ट स्थान

आई एन वी सी न्यूज़
लखनऊ,
प्रदेश सरकार के नगर विकास, शहरी समग्र विकास, नगरीय रोजगार एवं गरीबी उन्मूलन मंत्री श्री आशुतोष टण्डन गोपाल जी ने जनपद आयोध्या के आयुक्त सभागार में बटन दबाकर 62 करोड़ रूपये की कई परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। जिसमें से 24 करोड़ की कई परियोजनाओं का लोकार्पण व 38 करोड़ की कई परियोजनाओं का शिलान्यास किया।

कार्यक्रम शुभारम्भ के पूर्व मा0 मंत्री जी द्वारा मां सरस्वती जी के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलन के साथ कार्यक्रम का विधिवत शुभारम्भ करते हुये अपने उद्बोधन में कहा कि अयोध्या सप्तपुरियों में विशिष्ट स्थान रखती है। इस पवित्र भूमि को भगवान श्रीराम के जन्मस्थली के होने का गौरव प्राप्त है और इस धरती से विश्व में किसी भी स्थान पर रहने वाले हिन्दुओं की आस्था का केन्द्र बिन्दु है। उन्होंने आगे बताया कि भारत सरकार के मा0 प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी व प्रदेश सरकार के मा0 मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी अयोध्या को उसके नाम एवं गौरव के अनुरूप विश्व स्तर का आध्यात्मिक केन्द्र बिन्दु के रूप में विकसित करने हेतु विभिन्न योजनाएं, परियोजनाएं की स्वीकृत दी है निकट भविष्य में अयोध्या पूरे विश्व के मानचित्र में पर्यटन एवं सस्कृति के रूप में अयोध्या का प्रथम स्थान होगा। उन्होंने बताया कि अयोध्या का पूरा मास्टर प्लान बनाया जा चुका है जिसमें नागरिकों के मूलभूत सुविधाओं सहित अयोध्या को जोड़ने वाले विभिन्न राष्ट्रीय राजमार्गाे, राजमार्गाे का चौड़ीकरण, भविष्य में बड़ी संख्या में आने वाले श्रद्वालुओं की संख्या को देखते हुये सुगम यातायात, पेयजल, सीवरेज सहित अन्य सभी क्षेत्रों में योजनाएं केन्द्र व प्रदेश सरकार द्वारा स्वीकृत की जा रही है।

नगर विकास मंत्री ने कहा कि अयोध्या नगर की नागरिकों की मूलभूत सुविधाओं को देखते हुये नगर विकास विभाग द्वारा नगर निगम की कई परियोजनाओं पर स्वीकृत प्रदान की गयी है। उन्होंने बताया कि पेयजल आपूर्ति से सम्बंधित लोकार्पित की गयी कुल 38.22 करोड़ की योजनाओं द्वारा लगभग 44.25 किमी0 पेयजल पाइप लाइन वितरण प्रणाली का विस्तार, 13 नग नलकूप रिबोर एवं अधिष्ठापन के साथ 2225 नग गृह पेयजल संयोजन द्वारा लगभग 1100 भवनों को जलापूर्ति सुनिश्चित की जायेगी एवं लगभग 55 हजार जन पेयजल आपूर्ति से सीधे लाभान्वित होंगे। 49.74 करोड़ की लागत से इन्टेलिजेन्ट ट्राफिक मैनेजमेंट सिस्टम की स्थापना हेतु की स्वीकृत शासन से प्राप्त हो गयी है, जिसे माह अक्टूबर 2021 से लाइव कर दिया जायेगा। इस परियोजना से यातायात की बेहतर व्यवस्था से जनमानस लाभान्वित होंगे। उन्होंने बताया कि नगर निगम अयोध्या के लिए आवारा पशुओं की जनसंख्या के नियंत्रण हेतु एनीमल बर्थ कन्ट्रोल निर्माण की परियोजना शासन द्वारा स्वीकृत की गयी है जिसकी लागत 3 करोड़ 60 लाख रूपये है। जिसमें से एक करोड़ 60 लाख की धनराशि शासन द्वारा अवमुक्त कर दी गयी है। 31 जुलाई 2021 से इस योजना का कार्य प्रारम्भ किया जायेगा। जिससे आवारा पशुओं आदि की जनसंख्या पर प्रभावी नियंत्रण किया जा सकेगा। 14.58 करोड़ की लागत से सिवरेज ट्रीटमेंट शोधन परियोजना की वृद्वि के साथ अयोध्या नगर के 5 हजार घरों में बने सैप्टी टैंक के अत्याधिक दूषित घरेलू मल के शोधन हेतु 32 केएलडी क्षमता के फीकल स्लट ट्रीटमेंट प्लांट का निर्माण कार्य अगस्त 2021 में पूर्ण होने के पश्चात इस परियोजना से 25 हजार जन लाभान्वित होंगे। इसी के साथ नगर निगम अयोध्या मे ंआदर्श कान्हा गौशाला के निर्माण हेतु 8 करोड़ 52 लाख 35 हजार रूपये की धनराशि शासन द्वारा अवमुक्त कर दी गयी है। जिसका निर्माण कार्य माह अक्टूबर 2021 तक पूर्ण हो जायेंगी। इस कान्हा गौशाला में गौवंश को बेहतर सुविधाएं प्राप्त होंगी। नगर निगम अयोध्या में अमृत योजना अन्तर्गत 2 करोड़ 88 लाख रूपये की लागत से 6 पार्काे के जीर्णाेद्वार का कार्य कराया जा रहा है। नगर निगम सीमा अन्तर्गत पार्किंग व्यवस्था के लिए स्मार्ट सिटी के अन्तर्गत एक मल्टी लेबल पार्किंग लागत 38.02 करोड़ रूपये तथा 3 मल्टी लेबल पार्किंग एवं व्यवसायिक काम्प्लेक्स जिसकी लागत 1.29 करोड़ की डीपीआर शासन के धर्माथ कार्य विभाग को स्वीकृति हेतु भेजी गयी है तथा नगरीय विकास अभिकरण के माध्यम से सर्किट हाउस के निकट व नये बस स्टेशन के पास आश्रय गृह निर्माण हेतु 27.49 करोड़ की परियोजना स्वीकृति हेतु शासन को भेजी गयी है।

श्री टंडन ने कहा कि अयोध्या में आधुनिक शवदाह गृह बैकुण्ठ धाम, मांझा बरेहटा में निर्माण हेतु जिसकी लागत 17.49 करोड़ की डीपीआर सीएनडीएस जलनिगम के माध्यम से तैयार कराकर शासन को भेजी गयी है। उपरोक्त के अतिरिक्त अन्य बहुत सी योजनाएं शासन में स्वीकृति हेतु भेजी गयी है। नगर निगम के नवीन कार्यालय भवन हेतु 49.14 करोड़ की डीपीआर भी स्वीकृत हेतु शासन को प्रेषित किया जा चुका है। अपने उद्बोधन के पश्चात मा0 मंत्री जी द्वारा 25 कोरोना बैरियर/सफाई कर्मियों को प्रशस्त्र पत्र व अंग वस्त्र भेंटकर उन्हें सम्मानित किया गया। इस अवसर पर भारत सरकार के प्रधानमंत्री जी द्वारा प्रयागराज में कुम्भ के दौरान सफाई कर्मियों को सम्मानित किया गया था उस क्षण को भी कार्यक्रम के दौरान याद किया गया। अपर मुख्य सचिव नगर विकास ने अपने उद्बोधन में कहा कि अयोध्या के संर्वागीण विकास के लिए जो भी योजनाएं शासन को भेजी जायेंगी उन्हें विशेष रूचि देते हुये शीघ्र से शीघ्र स्वीकृत करते हुये तत्काल धनराशि अवमुक्त कर दी जायेगी। महापौर ऋषिकेश उपाध्याय ने मा0 मंत्री जी का स्वागत किया तथा नगर निगम की सीमा में जुड़े नये क्षेत्रों के लिए मूलभूत सुविधाओं को उपलब्ध कराने हेतु अतिरिक्त धन आवंटन की मांग की। वही अयोध्या विधायक श्री वेद प्रकाश गुप्ता द्वारा मा0 मंत्री जी के समक्ष नगर की कई समस्याओं को उठाते हुये उनके यथाशीघ्र निस्तारण हेतु परियोजना स्वीकृति करने के साथ साथ धनराशि उपलब्ध कराने की मांग रखी।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment