Monday, June 1st, 2020

अड़ानी ग्रुप की उत्तरखंड में पैर पसाने की तैयारी - प्रतिनिधिमण्डल मिला मुख्यमंत्री से

cmhareeshrawat,harishrawat,adanigruopआई एन वी सी न्यूज़ देहरादून , मंगलवार देर सांय बीजापुर हाउस में अड़ानी ग्रुप के प्रतिनिधिमण्डल ने मुख्यमंत्री हरीश रावत से भेंट कर राज्य में विभिन्न क्षेत्रों में निवेश की सम्भावनाओ ंपर विचार विमर्श किया। अड़ानी ग्रुप के अधिकारियों ने बताया कि वे राजस्थान व गुजरात में सोलर पावर के क्षेत्र में बड़े पैमाने पर काम कर रहे हैं। उन्होंने उŸाराखण्ड में भी सोलर पावर प्लांट लगाने का प्रस्ताव दिया। इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि उŸाराखण्ड के तराई क्षेत्र में इसके लिए बड़े स्केल पर भूमि उपलब्ध होना बहुत मुश्किल है। हालांकि पर्वतीय क्षेत्रों में पर्वतीय ढ़ालो ंपर भूमि उपलब्ध हो सकती है। वहां मैदानी क्षेत्रों की तरह सर्दियों में धुंध व कोहरे की समस्या भी नहीं रहती है और धूप भी अधिक तेज रहती है। मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा कि राज्य में खाद्य प्रसंस्करण विशेष तौर पर फल प्रसंस्करण में बहुत सम्भावनाएं हैं। जिस प्रकार अड़ानी गु्रप हिमाचल प्रदेश में सेब की प्रोसेसिंग में काम कर रहा है उसी प्रकार की सम्भावनाएं उत्तराखण्ड में भी है। यहां के सेब की क्वालिटी हिमाचल प्रदेश से कम नहीं है। अड़ानी गु्रप द्वारा जिस प्रकार पंजाब में उच्च गुणवत्ता के हाई टेक्नीक के खाद्यान्न के स्टोरेज गोदाम बनाए हैं वैसे ही उत्तराखण्ड में भी बनाए जा सकते हैं। उŸाराखण्ड के शिवालिक क्षेत्र की बासमति असली बासमति कही जाती है। यहां के बासमति की महक अलग ही होती है। इस पर भी सम्भावनाओं पर विचार किया जा सकता है। मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा कि राज्य के आठ जिले पूरी तरह से आर्गेनिक हैं, यहां के उत्पादों का प्रयोग करते हुए खाद्य प्रसंस्करण के क्षेत्र में यदि प्रस्ताव दिया जाता है तो राज्य सरकार उसमें सहयोग करेगी। उत्तराखण्ड में दूसरे राज्यों की तुलना में निवेश का अधिक माहौल है। अड़ानी गुप के अधिकारियों ने इस पर अनी सहमति जताई। तय किया गया कि इस प्रारम्भिक बातचीत के बाद मुख्य सचिव के स्तर पर विस्तार से विचार विमर्श कर सम्भावनाओं को टटोला जाए। बैठक में सीएम के औद्योगिक सलाहकार रणजीत सिंह रावत, मुख्य सचिव राकेश शर्मा, प्रमुख सचिव डा.उमाकांत पंवार, सहित राज्य सरकार व अड़ानी गुप के अधिकारी मौजूद थे।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment