imagesआई एन वी सी,
लखनऊ,
भारतीय जनता पार्टी ने कहा कि अखिलेश के दबंग राज्य की कानून व्यवस्था के लिए लगातार चुनौति बन रहे है। एटा, औरैया, मैनपुरी, अंबेडकरनगर, लखीमपुर, झाँसी सहित कई जनपदों में सपाई दबंगों की कारस्तानियां आम जन में चर्चा का विषय बनी हुई है। प्रदेश प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक ने कहा कि सत्ता गठन के दिन से उत्तर प्रदेश में शुरू हुई सपाईयों की दबंगई सरकार के कानून व्यवस्था के बेहतरी के तमाम दावों के बावजूद दिनों दिन बढ़ती जा रही है। प्रदेश की जनता माया के दागी और अखिलेश के दबंगों से आजिज आ गई है। पार्टी के राज्य मुख्यालय पर पत्रकारों से चर्चा में प्रदेश प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक ने के कहा कि खलीलाबाद में दबंग ठेकेदार ने सपा विधायक के आवास पर जल निगम के इंजीनियर को कमरे में बंद किया। उसका मोबाईल छीन लिया। इंजीनियर को डरा धमकाकर कैशियर को बुलवाया और जबरन 14.86 लाख की चेक पर हस्ताक्षर कराया। खलीलाबाद में सपा विधायक के आवास पर जलनिगम के अभियंता को बंधक बनाने की घटना पूर्ववर्ती बसपा शासन काल में औरैया में पीडब्लूडी के अभियंता मनोज गुप्ता की बसपा विधायक के आवास पर हुई हत्या की घटना की याद दिलाती है। अंतर सिर्फ इतना है कि खलीलाबाद की घटना में इंजीनियर ने मौके की नजाकत को समझ कर सपा विधायक और उसके गुर्गो की इच्छानुसार काम कर अपनी जान को बचा लिया। उन्होंने कहा दरअसल समाजवादी पार्टी की सरकार बनने के बाद से सत्तारूढ़ दल के मंत्री विधायक और नेता सरकारी अधिकारियों-कर्मचारियों से अपने मन मुताबिक काम कराने के लिए लगातार दबाव बना रहे है। जहां पर अधिकारियों-कर्मचारियों ने सपाई दबंगों के हुकम की नाफरमानी की वहां उन्हें इनके कोपभाजन का शिकार बनना पड़ रहा है। अखिलेश सरकार के तमाम दावों और सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव की नसीहतों की अनदेखी करते हुए सपाई दबंगों ने राज्य में कई स्थानों पर पुलिस को पीटा, थानों पर हमले किये, जिलाधिकारी से बदसलूकी की। लेकिन किसी भी मामले में राज्य सरकार की तरफ से कार्यवाही को लेकर दोषियों के खिलाफ कोई ठोस कदम नही उठाये गये। नतीजा हौसले बढ़ते गए। सत्तागठन के बाद लखनऊ में सत्तारूढ़ दल के विधायक के तांडव, सिपाही को दौड़ाकर पीटने की घटना हो या फैजाबाद में अधिशाषी अधिकारी के साथ हुए दुर्व्यवहार हर बार सुर्खियों में मामले आये पर कार्यवाही नही हुई, गोण्डा में राज्यमंत्री द्वारा सी.एम.ओ. के साथ हुई घटना पर आज तक सरकार का जवाब नही आया, जबकि आरोपो की जद में आये मंत्री दुबारा मंत्री परिषद में शामिल कर लिए गये।  श्री पाठक ने कहा अम्बेडकर नगर में सपा विधायक द्वारा नायब तहसीलदार से की गई बदसलूकी, सिद्धार्थनगर में सपा विधायक द्वारा डा0 महेश प्रसाद की पिटाई, कन्नौज में पीडब्लूडी के ठेके को लेकर अधिकारियों को बंधक बनाने, गोण्डा में राज्य मंत्री द्वारा जिलाधिकारी के साथ की गई बदसलूकी, रामपुर में जलनिगम के अधिसाशी अभियंता की सपा नेता द्वारा कि गई पिटाई तथा अवैध खनन के खिलाफ पुलिसिया कार्यवाही से नाराज सपा विधायक दीपनारायण यादव के गुर्गो द्वारा थाने पर हमला बोलकर पुलिस कर्मियों की पिटाई सहित कई ऐसे मामले है जिनसे राज्य में सपाईयों द्वारा बरपी जा रही अराजकता व आतंक की पोल खुलती है। भाजपा प्रवक्ता ने खलीलाबाद में जल निगम के अभियंता के साथ हुई घटना की निष्पक्ष जांच करते हुए दोषियों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही की मांग की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here