Dr.-Raman-Singh-INVC-NEWSआई एन वी सी न्यूज़
भोपाल,
मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज यहां राज्य सरकार के दाऊ कल्याण सिंह पोस्ट ग्रेजुएट इस्टीट्यूट एंड रिसर्च सेंटर द्वारा आयोजित एक दिवसीय राष्ट्रीय अंग प्रत्यारोपण सम्मेलन का का शुभारंभ किया।

उन्होंने सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा – देश में अंग प्रत्यारोपण के लिए ठोस और समान कानून बनाने की जरूरत है, ताकि प्रत्येक राज्य में किसी भी व्यक्ति को अंग प्रत्यारोपण के लिए कठिनाई का सामना न करना पड़े। लीवर, किडनी सहित अन्य अंग प्रत्यारोपण से कई व्यक्तियों की जान बच सकती है। छत्तीसगढ़ में जल्द ही इसके लिए कानून पारित कर लिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने सम्मेलन की सफलता के लिए अपनी शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा-अंग प्रत्यारोपण की मेडिकल तकनीक आज हम सबके लिए एक बड़ी चुनौती है। पूरे देश में आज भी 5 लाख से ज्यादा से मरीज अंग प्रत्यारोपण के लिए कतार में लगे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा – छत्तीसगढ़ निर्माण के समय हमारी प्राथमिकता मातृ और शिशु मृत्यु दर को कम करना और प्रदेश के जरूरतमंद मरीजों के लिए बेहतर इलाज की सभी जरूरी सुविधाएं उपलब्ध कराना था। इन 16 वर्षों में इस दिशा में हमें काफी महत्वपूर्ण सफलताएं मिली है। एम्स तथा सरकारी और निजी क्षेत्र के मेडिकल कॉलेजों को मिलाकर राज्य में 10 मेडिकल कालेज हो गये है। इसके साथ ही सुदूरवर्ती इलाकों सहित पूरे राज्य में अच्छे और सुयोग्य डॉक्टरों की नियुक्ति की जा चुकी है।

उन्होंने कहा कि अब शासन द्वारा किये गये विशेष प्रयासों के तहत जिस प्रकार हर व्यक्ति को अनाज मिल रहा है, उसी प्रकार यह भी व्यवस्था की गई है कि इलाज के लिए प्रदेश का किसी  भी नागरिक को भटकना न पड़े। स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत अब जल्द ही  स्मार्ट कार्ड के द्वारा 50 हजार रूपए तक इलाज की सुविधा मिलेगी। यह सुविधा सभी वर्ग के नागरिकों को प्राप्त होगी।

स्वास्थ्य मंत्री श्री अजय चंद्राकर ने इस अवसर पर कहा कि इस सम्मेलन के द्वारा हमारे प्रदेश में नया अंग प्रत्यारोण कानून बनाने में निश्चित ही मदद मिलेगी। छत्तीसगढ़ में जल्द मल्टी स्पेशलिस्टी हास्पिटल का निर्माण होने जा  रहा है। इसके बाद सार्वजनिक क्षेत्र में विभिन्न बीमारियों के इलाज के साथ सभी जरूरतमंद मरीजों को अंग प्रत्यारोण की सुविधा मिलेगी। कार्यक्रम में आए विषय विशेषज्ञों को मुख्यमंत्री ने स्मृति चिन्ह भेंट किया।

इस अवसर पर स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव श्री सुब्रत साहू, दाउ कल्याण सिंह, पोस्ट ग्रेजुएट इस्टीट्यूट एंड रिसर्च सेंटर के अधीक्षक डॉ. पुनीत गुप्ता और पंडित जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज के अनेक प्राध्यापकों, विद्यार्थियों तथा अन्य विषय-विशेषज्ञों सहित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। सम्मेलन में टिश्यू इंजीनियरिंग और स्टेम सेल, कॉर्निया प्रत्यारोपण, अंग प्रत्यारोपण के लिए अंगों के आपातकालीन परिवहन, अंगदान, किडनी प्रत्यारोपण, लीवर प्रत्यारोपण, हृदय प्रत्यारोपण और त्वचा दान जैसे विषयों पर वरिष्ठ चिकित्सकों तथा विषय विशेषज्ञों ने अपने विचार व्यक्त किए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here